Blog

मायावती से उदित राज के 12 सवाल
Sep 2021

डॉ उदित राज ,कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता, ने कुछ सवाल सुश्री मायावती से किये हैं। जब भी कोई दलित तरक़्क़ी करता है या उच्च पद पर पहुचता है तो मायावती जी को सबसे ज्यादा कष्ट क्यों होता है ? श्री चरनजीत सिंह चन्नी जब पंजाब के मुख्यमंत्री बने तो कहा की कांग्रेस दिखावा कर रही है।

Read More
जाति ही शाश्वत है
9 Aug 2021

हॉकी खिलाड़ी दलित वंदना कटारिया के परिजन को अपमानित किया कि वो मैच हरवा दिया जबकि हॉकी में उसका श्रेष्ठ प्रदर्शन था। अगर सवर्ण की बेटी होती तो पूरे जाति के लिए गौरव की बात होती। कांस्य पदक कोई छोटी उपलब्धि नही है।

Read More
अब कोई हिन्दू रह भी गया है ?
2 Aug 2021

1925 में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की स्थापना हुयी।उस समय अंग्रेजी हुकूमत थी । सवर्णों में छटपटाहट थी की देर सवेर जब भी देश स्वतंत्र हो , पुनः सनातन या काल्पनिक सतयुग के काल में पहुच सके ।अंग्रेज निशाने पर न होकर मुसलमान हुए।

Read More
शुरुआत बहुजन से, पहुँचे जाति पर और अब ब्राम्हण के शरण
30 July 2021

आरम्भ में कांशीराम जी ने बामसेफ बनायी जिसकी शुरुआत महाराष्ट्र में हुई और उसके बाद उत्तर भारत के पंजाब, हरियाणा और उत्तरप्रदेश में फैला। न केवल दलित जातियाँ जुड़ी बल्कि पिछड़े भी।

Read More
बहुजन हिताय बनाम बहुजन राजनीति
09 June 2021

बहुजन हिताय बहुजन सुखाय का सन्देश गौतम बुद्ध ने दिया था। सामाजिक न्याय एवं मानवता के जो आन्दोलन रहे हैं, वो किसी न किसी रूप में इस विचारधारा से प्रभावित रहे हैं| ज्योतिबा फूले, शाहू जी महाराज एवं डॉ. अम्बेडकर आदि महापुरुषों के जो आन्दोलन रहे हैं

Read More
भारत का कोई भविष्य नही
24 May 2021

जब कोरोना वायरस फैला उसी समय से विज्ञान का तिरस्कार शुरू हो गया | दवा के रूप में गोमूत्र पार्टी का आयोजन किया गया| गोबर लेप के बाद स्नान करने से इलाज ढूढ़ा गया| विज्ञान बेचारा दूर से देखता रहा है कि कैसे वायरस का गला दबाए।

Read More
भारत माता की जय से देशभक्ति तक
18 March 2021

रामलीला मैदान पर भ्रष्टाचार के विरुद्ध अन्ना हजारे के आंदोलन में भारत माता की जय के नारे खूब गूंजे। आजादी के आंदोलन में भारत माता कि जय का नारा घर घर में गूंजता था। सोये हुए लोगों को जगाने के लिए इस प्रतीक उस समय उपयोगिता थी।

Read More
दलितों की लड़ाई लड़ते किसान
15 Dec. 2020

यह किसान आन्दोलन अबतक में हुए आन्दोलनों से भिन्न है| इसके पहले जो आन्दोलन हुए उनके आन्दोलनकारियों की शिकायत सरकार से हुआ करती थी, लेकिन इसबार पूंजीपति भी दायरे में आये हैं| यही वजह है कि विभिन्न वर्गों का सरोकार वर्तमान आन्दोलन से जुड़ गया है|

Read More
बहुजन राजनीति का अंत
06 Nov. 2020

नब्बे के दशक में बहुजन राजनीति का उभार उत्तरी भारत में हुआ| दलित एवं पिछड़े आन्दोलन को गति देने से सहयोग किये| आन्दोलन में भावना एवं अधिकार दोनों का मिश्रण था और इसमें कोई गलती भी ना थी| कभी ऐसी रणनीति बनानी पड़ती है

Read More
कल्याणकारी राज्य की वापसी
29 Oct. 2020

अमेरिका एवं यूरोप की सम्पन्नता और सुविधाएं देखकर भारत का अभिजात्य वर्ग बड़ा प्रभावित होता रहा है जिसका परिणाम ये हुआ कि निजीकरण , उदारीकरण कि ओर हम चल पड़े | ये तथाकथित बुद्धिजीवी एवं व्यापारी सोचे कि उनकी उनकी नक़ल करके हम भी वैसे हो जायेंगे

Read More
दलित कितने हिन्दू हैं
08 Oct. 2020

हाथरस में एक दलित लड़की के बलात्कार- हत्या और उसके बाद पुलिस द्वारा आधी रात को जलाये जाने के बाद जो स्थिति देश में उत्पन्न हुयी इसमें कई सवाल फिर से खड़ा हो गया है| हद तो तब हो गयी जब आरोपी के पक्ष में सवर्णों ने उसी गाँव में एक पंचायत कि बावजूद

Read More
5 अगस्त और 15 अगस्त की आजादी
06 Aug. 2020

अयोध्या में राम जन्मभूमि के शिलान्यास इस देश के प्रधानमंत्री ने सदियों की गुलामी से आजादी की घटना बताई। इसका मतलब कि देश और राम जन्मभूमि का शिलान्यास दोनों बराबर है। यह समझ में नहीं आता कि आजादी किससे? 1947 को देश अंग्रेजों से आजाद हुआ

Read More
अपनी जाति का हो तो नायक नहीं तो और खलनायक
10 July 2020

खुद कि जाति का अपराधी नायक होता है और गैर जातियों का खलनायक| विकास दुबे कि भी यही कहानी है | विकास दुबे या उसके साथी जो भी काम अंजाम देते थे जाति के लोग गौरव महसूस करते |

Read More
क्या दलित पिछड़े कभी भारत में न्याय पा सकेंगे
13 June 2020

उच्च न्यायपालिका के चरित्र को देखते हुए दलित, आदिवासी, पिछडो, अल्पसंख्यकों को न्याय पाना संभव नहीं है. इस कथन का सत्यापन करना मुश्किल नहीं है. हाल में DMK , IDMK ,CPM आदि

Read More
महिलाओं का हक मारकर देश का विकास असंभव
31 May 2020

भारतीय समाज में जबतक दो बड़े मुद्दे पर बहस और समाधान नहीं खोजा जाएगा , कितने भी प्रयास कर लिया जाय विकसित देशों कि श्रेणी में नहीं पहुच सकेंगे | कुछ लोग पिछड़ेपन को अंग्रेजों कि लूट को वजह मानते है|

Read More
मजदूर दलित-आदिवासी-पिछड़े-मुसलमान हैं इसलिए इनके साथ
28 May 2020

दो महीने से पूरी दुनिया कोरोना कि मार झेल रही है. इससे बचने के लिए दुनिया के कई देशों में लॉक डाउन किया गया| भारत में भी मोदी सरकार अबतक चार फेज में

Read More
कोरोना की सर्वाधिक मार
21 May 2020

इस समय लाखों लोग दिल्ली , अहमदाबाद, सूरत , मुंबई और छोटे-बड़े शहरों में सिर पर गठरी या झोला लेकर चलते नज़र आयेंगे | शौक से तो अपने घरों को छोड़कर के बाहर मजदूरी करने नहीं आये थे| जरुर कोई मजबूरी है|सबसे कम जमीन दलितों के पास है

Read More
सामाजिक-साम्प्रदायिक कोरोना से
04 May 2020

भारत ही नही पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है| उसी समय मंथन भी चल रहा है कि कोरोना महामारी के उबरनेके बाद दुनिया में बदलाव आएगा | दुनिया के तमाम देशों ने अगर इस तरह कि चर्चा हो रही है तो कोई वजह जरुर है|

Read More
डॉ अम्बेडकर की नजर में न्यायपालिका
29 April 2020

सुप्रीम कोर्ट का आरक्षण विरोधी फ़ैसला उस समय आया जब गरीब और मजदूर भूखे प्यासे जगह-जगह पर फंसे हैं| कोरोना महामारी के समय में उनकी समस्या के ऊपर सुनवाई करनी चाहिए था , लेकिन जब दलितों- आदिवासियों- पिछड़ों के आरक्षण का मामला आता है

Read More
निजीकरण के दौर में कोरोना का कहर
20 April 2020

आज पूरी दुनिया कोरोना वायरस के संक्रमण से जूझ रही है , दुनिया का कोई देश इससे अछूता नहीं है| भारत भी इस महामारी कि चपेट में आ चुका है, हर दिन इसके संक्रमण के सैकड़ो मामले सामने आ रहे हैं| इसके निबटने के लिए तमाम एहतियाती कदम भी उठाये जा रहे हैं|

Read More
कोरोना का अर्थव्यवस्था पर दूरगामी प्रभाव
11 April 2020

कोरोना एक ऐसी महामारी का नाम है, जिससे आज पूरी दुनिया खौफ खा रही है. दूनिया भर के तमाम डॉक्टर्स और चिकित्सा विज्ञान से जुड़े वैज्ञानिक इसकी दावा के लिए शोध में लगे हुए हैं| सभी जानते हैं कि यह बीमारी मूल रूप से

Read More
22 वीं सदी कि दहलीज पर विज्ञान का क़त्ल
06 April 2020

भारत में विज्ञान का क़त्ल होना आम बात है |आये दिन हम विज्ञान का बेरहमी से क़त्ल होते देखते रहते हैं| भारत के प्राचीन इतिहास पर नज़र उठाकर देखें तो इस देश के ये नया नहीं है| सदियों से इस देश ने वैज्ञानिक चिंतन

Read More
भावनाओं पर टिका दलित संघर्ष कितना
18 March 2020

भारत में भावनाओं से काम ज्यादा चलता है और तथ्य से कम दलित आन्दोलन इससे अछूता नहीं है दलितों का एक तबका सबसे ज्यादा कांग्रेस से इसलिए नाराज़ रहते हैं, क्यूंकि डॉ अम्बेडकर को उन्होंने चुनाव में हराया| दुनिया में क्या कोई भी चुनाव हारने के लिए लड़ता है?

Read More
अम्बेडकर बने मुसलमानों के प्रतीक
16 March 2020

जब CAA/NRC लागू करने कि बात पैदा हुयी तब जामिया और अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में प्रतिरोध कि लहर उठी . जे एन यू भी कहाँ पीछे रहने वाला था . धीरे धीरे पूरे देश में इसका विरोध शुरू हुआ . पहले तो जामिया का विरोध प्रदर्शन केंद्र बना लेकिन कुछ दिन बाद ही शाहीनबाग़

Read More
हिन्दू-मुस्लिम मुद्दा ही आखिरी ब्रह्मास्त्र
04 March 2020

मोदी जी महसूस कर पा रहे हैं या नहीं लेकिन वो चारो तरफ से घिर गए हैं| जो काम कांग्रेस 60 साल में नहीं कर सकी उसे उन्होंने 60 महीने में करने का वायदा 2014 के चुनाव में किया था| इसके अलावा भी तमाम ऐसी बाते कहीं जो आज़ादी के बाद ना हो सका

Read More
मुसलमानों के खिलाफ दलितों को ढाल
04 Jan. 2020

नागरिकता संशोधन कानून एवं नेशनल रजिस्टर ऑफ़ सिटिजनशिप बिल पास करते समय भाजपा कि ममता बार-बार छलक पड़ी और अभी भी पूरे बहस के दौरान देखने को मिल जायेगी| जब संविधान में संशोधन करके यह कानून पास किया

Read More
डॉ अम्बेडकर और 370
16 Sep. 2019

संसद में जब धारा -370 और 35-A ख़त्म करने का बिल पास हो रहा था तो सरकार को सबसे ज्यादा चिंता दलित हित की दिखी| बिल पेश करते समय एवं बारी –बारी से जो भी अन्य वक्ता भाजपा से बोले,सबसे पहले उनकी फिक्र दिखी कि इनके हटने से दलितों को

Read More
संतों और महापुरुषों की जाति
24 Aug. 2019

दिल्ली में संत रविदास मंदिर को सुप्रीम कोर्ट के आदेश से तोड़ दिया गया है | बताया जाता है कि संत रविदास यहाँ ठहरे थे और उनसे मिलने सिकन्दर लोधी गया था | सन 1959 में बाबु जगजीवन राम जी भी यहाँ पधारे थे | सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में बड़ी काफी सक्रियता

Read More
भागवत जी आरक्षण न लागू होने पर
22 Aug. 2019

मोहन भागवत जी ने फिर से एक बार कहा कि आरक्षण पर बहस होनी चाहिए लेकिन सौहार्दपूर्ण वातावरण में | प्रश्न खड़ा होता है कि किस वर्ग ने आरक्षण के औचित्य पर बहस के लिए उनसे कहा | अगर आर.एस.एस की तरफ से यह मांग हो , तो उन्हें स्पष्ट करना चाहिए |

Read More
कावंड की राजनीति
09 Aug. 2019

सावन का महीना चल रहा है। लाखों और करोड़ों लोग केसरिया वस्त्र पहन कर गंगा जल शिवलिंग पर चड़ाने निकल पड़े हैं। झंुड के झुंड केसरिया वस्त्र धारण करने वाले कांवड़ियों का जनसैलाब देखते बन रहा हंै। यह कब शुरू हुई और क्यों इस पर भिन्न भिन्न राय है।

Read More
एक राष्ट्र - एक चुनाव
22 July 2019

प्रधानमंत्री ने एक राष्ट्र एक चुनाव पर 19 जून, 2019 को सर्वदलीय बैठक बुलाई। गत् कई महीनों से इस पर चर्चा भारतीय जनता पार्टी की तरफ से की जाने लगी थी और उस पर अब सर्वदलीय बैठक भी हो गयी, जिसका प्रमुख दलों जैसे - कांग्रेस, बसपा, सपा आदि ने बहिष्कार किया।

Read More
तीन तलाक, शबरीमाला और जोमैटो
05 July 2019

सरकार कि सबसे बड़ी चिंता यह रही है कि मुसलमान औरतों को तीन तलाक के शोषण से मुक्त कराए | लोकसभा और राज्यसभा में इस सम्बन्ध में बिल पास भी करा दिया | अब कोई तीन तलाक देकर बच नहीं सकता उसे जेल कि हवा खाना पड़ेगा

Read More